Tuesday, November 11, 2014

RAAGMALIKA IN HINDI FILM :'SAHARA'


video

                                                                     
HEMANT KUMAR

LATA MANGESHKAR


This song has three different parts showing the change of seasons,but the opening part(mukhada) tells that for a blind person there is no change in life.Music director HEMANT KUMAR and lyricist BHARAT VYAS have composed a melodious and meaningful Raagmalika.The ragas used are KAFI ,NAT -BHAIRAVI ,MALHAR and KEDAR.Lata Mangeshkar has poured the feeling alongwith correct treatment of the ragas in her singing.And above all on the screen performance of Late MEENA KUMARI is superb.To make the song more meaningful,its lyrics are being given.
            
    ऋतु   आये  ऋतु  जाये,
    दुनिया रंग बदलती है 
    तक़दीर न बदली  जाये
    ऋतु   आये  ऋतु  जाये,                                 

    बहार  आयी चमन की हर कली ,
    खिल खिल के मुस्कायी,
    नई डालें करें अठखेलियाँ,
    ले ले के अंगड़ाई । 
    मगर मेरी नसीबों की कली 
     रहती है मुरझाई । 
    इसको कौन खिलाये ?
    ऋतु आये ऋतु जाये।    

       बरखा की ऋतु आयी झूम के
    रिमझिम रिमझिम बरसे 
    झिर झिर झिर झिर पड़े फुहारें 
    खेल करें अंगन से ,
    मगर प्यासे नयन मेरे 
    रहे सावन में भी तरसे,
    इस प्यास को कौन बुझाए,
     ऋतु आये ऋतु जाये। 
    जगमग जगमग आई दीवाली 
     घर घर हुआ उजाला रे.
     छम छम छम छम लक्ष्मी आई 
     पहने दीपक माला रे,
     घर घर हुआ उजाला रे.
     मगर मेरे बुझे दिल का 
     सदा संसार काला रे। 
     इस जोत को कौन जगाये ?
     ऋतु आये ऋतु जाये। 
       

No comments: